Breaking News
NEET फिर से आयोजित किया जाना चाहिए: बालाजी सिंह
पाकिस्तान
आत्मघाती हमले में 5 चीनी नागरिक की हत्या की जांच करने के लिए चीन से जांचकर्ता पाकिस्तान पहुंचे
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू
राष्ट्रपति ने लालकृष्ण आडवाणी को भारत रत्न से सम्मानित किया, वीप के साथ पीएम मोदी भी मौजूद
मुकेश अंबानी ने श्लोका मेहता की सराहना की
मुकेश अंबानी ने श्लोका मेहता की सराहना की, कहा कि वह ‘गर्मजोशी और ज्ञान बिखेरती हैं’।
द ग्रेट इंडियन कपिल शो
द ग्रेट इंडियन कपिल शो में रणबीर कपूर और कपिल शर्मा की तस्वीरें वायरल
'लॉटरी किंग' सैंटियागो मार्टिन
‘लॉटरी किंग’ सैंटियागो मार्टिन कंपनी ने किस फायदे के लिए ज्यादातर चुनावी बॉन्ड टीएमसी, डीएमके और वाईएसआरसीपी को दिए हैं?
मॉस्को कॉन्सर्ट हॉल अटैक लाइव: रूस में आतंकी हमले में 143 लोगों की मौत
रूस मॉस्को कॉन्सर्ट हॉल में आतंकी हमले में 143 लोगों की मौत
मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू
मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू ने भारत को अपना सबसे करीबी सहयोगी बताया।
अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया।
चुनावी बांड - क्या कांग्रेस पार्टी को मिल रहा है पाकिस्तानी सेना से चंदा?

भारत के चुनाव आयोग द्वारा प्रकाशित चुनावी बांड विवरण में पाकिस्तान पावर प्रोड्यूसर कंपनी हब पावर ने भारतीय राजनीतिक दल को 95 लाख रुपये का दान दिया।

चुनावी बांड विवरण: चुनाव आयोग ने गुरुवार (14 मार्च) को चुनावी बांड का विवरण सार्वजनिक कर दिया। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 12 मार्च को चुनाव आयोग के साथ विवरण साझा किया था।

चुनावी बांड के विवरण पर नजर डालने पर एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। ब्यौरा खंगालने पर पता चला कि कंगाल पाकिस्तान की एक बिजली कंपनी ने भी भारतीय राजनीतिक दलों को चंदा दिया है।

क्या कांग्रेस या अन्य किसी राजनीतिक दल को मिल रहा है पाकिस्तानी सेना से (चुनावी बांड) चंदा ?

चुनावी बांड – दरअसल, भारतीय पार्टियों को चुनावी चंदा देने वाली यह पाकिस्तानी कंपनी पड़ोसी देश में बिजली उत्पादक के तौर पर काम करती है।

चुनावी बांड
चुनावी बांड

कंपनी का नाम ‘हब पावर कंपनी लिमिटेड’ (HUBCO) है, जो पाकिस्तान की सबसे बड़ी बिजली उत्पादक कंपनी है। चुनाव आयोग के माध्यम से अपलोड की गई जानकारी में हब पावर का नाम दिख रहा है।

इस पाकिस्तानी कंपनी ने 18 अप्रैल 2019 को राजनीतिक दलों को करीब 95 लाख रुपये का चंदा दिया है.

चुनावी बांड

लोकसभा चुनाव के समय चंदा दिया गया था

वहीं, जैसे ही यह पता चलेगा कि किस राजनीतिक दल ने इन चुनावी बांड को भुनाया है। वैसे ही आने वाले दिनों में इसे लेकर राजनीति भी देखने को मिलेगी।

यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि 2019 में चुनावी चंदा उस वक्त दिया गया जब देश में लोकसभा चुनाव चल रहे थे।

हब पावर की वेबसाइट के मुताबिक, इसके बिजली उत्पादन संयंत्र बलूचिस्तान, सिंध, पाकिस्तानी पंजाब और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में मौजूद हैं।

चुनावी बांड विवरण में और क्या खुलासा हुआ?

चुनाव आयोग के माध्यम से अपलोड किए गए डेटा को देखने से पता चलता है कि ग्रासिम इंडस्ट्रीज, मेघा इंजीनियरिंग, पीरामल एंटरप्राइजेज, टोरेंट पावर, भारती एयरटेल, डीएलएफ कमर्शियल डेवलपर्स, वेदांता लिमिटेड, अपोलो टायर्स, लक्ष्मी मित्तल, एडलवाइस, पीवीआर, केवेंटर, सुला वाइन, वेलस्पन, और सन फार्मा चुनावी खरीद में शामिल हैं। ।

बीजेपी, कांग्रेस, एआईएडीएमके, बीआरएस, शिवसेना, टीडीपी, वाईएसआर कांग्रेस, डीएमके, जेडीएस, एनसीपी, तृणमूल कांग्रेस, जेडीयू, राजद, आप और समाजवादी पार्टी ने इन चुनावी बांड को भुनाया है। फ्यूचर गेमिंग एंड होटल सर्विसेज (1,368 करोड़ रुपये) और मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (966 करोड़ रुपये) ने सबसे ज्यादा कीमत के चुनावी बांड खरीदे हैं।

Back To Top